• Wed. Dec 1st, 2021

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को चूम रहे वायुसेना के लड़ाकू विमान, उद्घाटन कल

पीएम नरेंद्र मोदी मंगलवार को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे। इससे पहले वायुसेना की ओर से एयर स्ट्रिप पर लड़ाकू विमानों को उतार कर जमकर परीक्षण किया गया। वायुवीरों की गर्जना से सुल्तारनपुर के लोगों में जबरदस्त रोमांच देखने को मिल रहा है। वहीं, उद्घाटन के समय प्रधानमंत्री की सुरक्षा अभेद्य होगी। सुरक्षा व्यवस्था एसपीजी के साथ वायुसेना, सीआरपीएफ, बीएसएफ, पीएसी व पुलिस के जिम्मे होगी। पीएम के कार्यक्रम को देखते हुए अरवलकीरी करवत में फोर्स समेत अन्य अधिकारियों ने डेरा डाल दिया है।

आसमान में गरजे सुखोई, मिराज, जगुआर व सी-130 जे युद्घक विमान : पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के अरवलकीरी करवत की एयर स्ट्रिप का परीक्षण वायुसेना ने शुरू कर दिया है। एयर स्ट्रिप पर रविवार को वायुसेना ने सुखोई-30, सी-130 जे, मिराज व जगुआर विमानों को उतारा। दिन में करीब एक बजे के बाद एक के बाद एक लड़ाकू विमानों के एयर स्ट्रिप पर उतरने से आसपास के क्षेत्र का दृश्य सीमा जैसा हो गया था।

आसपास के ग्रामीण सेना के लड़ाकू विमानों को देखते रहे। एयर स्ट्रिप पर विभिन्न लड़ाकू विमानों को उतरने व उड़ान भरने का सिलसिला 16 नवंबर तक जारी रहेगा। हवाईपट्टी पर लड़ाकू विमानों के उतरने के दौरान आसमान में वायुसेना के अधिकारी हेलीकॉप्टर से पेट्रोलिंग करते रहे। वायुसेना के अधिकारियों ने विकल्प के रूप में आरक्षित की गई अमहट हवाई पट्टी का भी हेलीकॉप्टर से निरीक्षण किया।

जबरदस्त सुरक्षा घेरा : 16 नवंबर को सुबह से ही कार्यक्रम स्थल से करीब 10 किमी की परिधि सुरक्षा घेरे में रहेगी। कार्यक्रम को देखते हुए जिले भर में जांच तेज कर दी गई है। पुलिस संदिग्धों पर नजर रख रही है। होटलों व ढाबों पर आने-जाने वालों व आसपास के गांवों पर पुलिस व खुफियां एजेंसियां निगाह गड़ाए हैं। सेना की एजेंसियां अलग से सूचनाएं एकत्र कर रही हैं। पुलिस व फोर्स को विभिन्न कॉलेजों में ठहराया गया है। पुलिस लाइन में वाहनों का तांता लगा है। जिलाधिकारी रवीश गुप्ता ने बताया कि पीएम की सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। एसपीजी ने पीएम की सुरक्षा व्यवस्था अपने हाथों में ले ली है।

Advertisement

मंत्रियों का होगा जमावड़ा : 16 नवंबर को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन में आ रहे प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के दौरान कई केंद्रीय व प्रदेश के मंत्रियों के पहुंचने की संभावना जताई जा रही है। इसमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी, प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप सिंह समेत अन्य के पहुंचने की उम्मीद है। कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदबेन पटेल व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे। साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी, कई जनपदों के सांसद, विधायक भी कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।

प्रशासन ने जारी किया रूट प्लान व पार्किंग :
प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के मद्देनजर वाहनों की बाहर पार्किंग कराने व जाम को रोकने के लिए प्रशासन ने रूट प्लान तैयार किया है। प्रशासन के मुताबिक अंबेडकरनगर, आजमगढ़ व जौनपुर से आने वाली भीड़ को सेमरी पीढ़ी मार्ग से गुजारा जाएगा। इस मार्ग के बड़े वाहनों की पार्किंग कोड़री के पहले होगी व छोटे वाहनों की लोलीगंज करौता में होगी। अमेठी, अयोध्या, लखनऊ, हलियापुर, बल्दीराय व धनपतगंज से भीड़ लाने वाले वाहनों की पार्किंग गुप्तारगंज एक्सप्रेस-वे के पहले सर्विस रोड से सेउर चमुरखा में कराई जाएगी।

सुल्तानपुर से जनसभा में भीड़ को लेकर पहुंचने वाले वाहनों की पार्किंग गुप्तारगंज टोल प्लाजा व अंडरपास से गुजरते हुए एक्सप्रेस-वे पर होगी। वीआईपी व मीडिया कर्मियों के मार्ग का निर्धारण कूरेभार पीढ़ी रोड पर गलिबहा से जफरापुर होते हुए आगे कराया जाएगा। भीड़ के सभी रूटों के छोटे वाहनों को लोलीपुर में पार्किंग होगी।