• Wed. Dec 1st, 2021

गोरखपुर : डॉक्टर से रंगदारी मांगने के मामले में नया मोड़, दोनों पक्षों में है पुराना विवाद, जांच में जुटी पुलिस

डॉक्टर का आरोप, फोन कर मांगी दो करोड़ की रंगदारी, जान से मारने की धमकी

मोहद्दीपुर स्थित टाइमनियर हास्पिटल के संचालक डा. शशिकांत दीक्षित को फोन कर दो करोड़ रुपये रंगदारी मांगने के मामले में नई कहानी सामने आ रही है। मोबाइल नंबर के आधार पर सामने आए आरोपी शशांक मिश्रा का डॉक्टर से पुराना विवाद है। एक मरीज की मौत को लेकर दोनों में अदावत है। मामला कोर्ट में भी विचाराधीन है।

गौरतलब है कि रविवार रात डा. शशिकांत दीक्षित ने डायल 112 के साथ ही एसएसपी को फोन कर बताया कि रविवार शाम 5.41 व 5.44 बजे उनके पास अनजान नंबर से फोन आया। काल रिसीव करने पर दूसरी तरफ से बात करने वाले ने धमकी देते हुए कहा कि रात में 12 बजे तक दो करोड़ रुपये न देने पर पूरे परिवार की हत्या कर दी जाएगी।

Advertisement

डॉक्टर से रंगदारी मांगने की सूचना मिलते ही एसपी सिटी सोनम कुमार, सीओ कैंट श्यामदेव बिंद व क्राइम ब्रांच की टीम टाइमनियर हास्पिटल पहुंच गई। जिस नंबर से फोन आया था उसके बारे में छानबीन करने पर पता चला कि मोहद्दीपुर के रहने वाले शशांक मिश्रा का है।

एसएसपी डा. विपिन ताडा ने बताया कि तहरीर के आधार पर नामजद युवक के खिलाफ रंगदारी मांगने का केस दर्ज कर जांच की जा रही है। एहतियात के तौर पर डाक्टर व उनके परिवार को सुरक्षा दी गई है।

डॉ विपिन ताडा (एसएसपी)

20 दिन पहले भी किया था फोन : डा. शशिकांत दीक्षित ने बताया कि 20 दिन पहले हास्पिटल के लैंड लाइन पर शशांक ने फोन किया था।रिसेप्शन पर बैठी महिला कर्मचारी ने काल रिसीव किया तो उसे जान से मारने की धमकी देने लगा। कर्मचारी ने बताया तो किसी सिरफिरे का फोन समझकर उन्होंने पुलिस को सूचना नहीं दी।

चार साल पहले चंदन सिंह ने मांगी थी रंगदारी :
चार साल पहले डा. शशिकांत दीक्षित से गौतमबुद्धनगर जेल में बंद कुख्यात चंदन सिंह ने 20 लाख रुपये रंगदारी मांगी थी। शिकायत पर कैंट पुलिस ने चंदन सिंह के खिलाफ रंगदारी मांगने का केस दर्ज किया था। इस मामले में आरोप पत्र दाखिल है।