• Wed. Dec 1st, 2021

लखनऊ : सहायक शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों ने विधानसभा को घेरा

OBC-SC ओबीसी एससी कटऑफ में धांधली का लगाया आरोप, पुलिस गाड़ियों में भरकर जबरन इको गार्डन ले गई

प्रदेश में 69 हजार पदों पर हुई शिक्षक भर्ती विवादों में हैं। ओबीसी और एससी वर्ग के अभ्यर्थियों ने मंगलवार को लखनऊ में विधानसभा का घेराव किया है। अभ्यर्थी सुबह 7 बजे से पहुंच गए। वहां पहले से पुलिस होने की वजह से विधानसभा गेट नंबर 1 के पास सड़क पर बैठ कर प्रदर्शन करने लगे। पुलिस अफसर प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों से बातचीत कर इन्हें इको गार्डन ले जाना चाहती थी। समझाने पर भी जब लोग नहीं माने तो उन्हें जबरन गाड़ियों में भरकर इको गार्डन ले जाया गया। बता दें कि अनारक्षित की कट ऑफ 67.11 के नीचे 27% आरक्षण की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहें है।

अभ्यर्थियों का आरोप है कि बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों की लापरवाही की वजह से आरक्षण के साथ खिलवाड़ किया गया है। ओबीसी व एससी वर्ग की 7149 सीट जनरल वर्ग के अभ्यर्थियों को दे दी गई। बेसिक शिक्षा विभाग ने जनरल वर्ग की व ओबीसी वर्ग की कटऑफ के बीच मात्र 0.38 मार्क्स के अंतर पर भर दी। ओबीसी वर्ग की 18 हजार से अधिक सीटें हैं। ओबीसी वर्ग को इस भर्ती में 18598 में से मात्र 2637 सीटें मिली हैं। जबकि ओबीसी वर्ग को इस भर्ती में 27% की जगह महज 3.86% आरक्षण मिला।

Advertisement

ये हैं अभ्यर्थियों की सरकार से प्रमुख मांग : पहला अनारक्षित की कट ऑफ 67.11 से नीचे 27% आरक्षण पूरा किया जाए। साथ ही लखनऊ हाई कोर्ट के सभी याचियों को याची लाभ दिया जाए। अभ्यर्थियों का बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा की गई इस भर्ती प्रक्रिया में घोर लापरवाही का आरोप है।

अभ्यर्थी अपनी मांगों को लेकर 5 महीने से लखनऊ के इको गार्डन में धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। आरोप है कि भर्ती प्रक्रिया में बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा 1,36,602 अभ्यर्थियों पर एमआरसी (मेरिटोरियस रिजर्व कैटेगरी) लगाया है। इनकी मांग है कि अनारक्षित की कट ऑफ 67.11 के नीचे 27% आरक्षण दिया जाए ।