• Wed. Dec 1st, 2021

मनीष गुप्ता हत्याकांड : रामगढ़ताल इंस्पेक्टर और नौकरी छोड़ चुके होटल कृष्णा पैलेस के वेटर से सीबीआई ने की पूछताछ

कचहरी और सीओ कैंट ऑफिस भी पहुंची केंद्रीय जांच एजेंसी

कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता हत्याकांड मामले में सीबीआई ने होटल कृष्णा पैलेस के वेटर नितीश कुमार और रामगढ़ताल थाने के इंस्पेक्टर सुशील कुमार शुक्ला से पूछताछ की। वेटर से उन्होंने घटना वाले दिन क्या हुआ था, यह पूछा। वहीं इंस्पेक्टर से थाने की कार्यशैली और घटना के बाद के हालात को समझने की कोशिश की। इससे पहले सुबह करीब साढ़े दस बजे सीबीआई दीवानी कचहरी पहुंची। कोर्ट से कुछ जरूरी कागजात हासिल कर लौट आई। बाद में कोर्ट पैरोकार ने एनेक्सी भवन पहुंच कर कुछ और पेपर उपलब्ध कराया।

सीबीआई पूछताछ के बाद बाहर आते लोग।

सीबीआई की टीम सीओ कैंट ऑफिस पहुंची और उनसे भी पूछताछ की। हालांकि उन्होंने बताया कि घटना के बाद उनकी तैनाती हुई है। लिहाजा एजेंसीI ने उनके थाने की पुलिस की कार्यशैली समझने का प्रयास किया और घटना के बाद की कार्रवाई को लेकर जानकारी ली।

Advertisement

दरअसल, सोमवार को भी CBI की पूछताछ का सिलसिला चला। इस दौरान जरूरत पड़ने पर टीम कुछ देर के लिए बाहर भी निकली। पूछताछ के क्रम में सोमवार को बिहार सहरसा के नितीश कुमार को CBI ने बुलाया था। नितीश कुमार कृष्णा पैलेस होटल में वेटर काम करते थे। घटना के बाद उन्होंने नौकरी छोड़ दी है। अब अपने गांव में रहते हैं। नितीश कुमार से करीब एक घंटे तक पूछताछ चली। पूछताछ के बाद बाहर निकले नितीश ने बताया कि तीन दिन पहले सीबीआई ने उन्हें फोन कर बुलाया था। घटना के समय के बारे में वह पूछ रहे थे। नितीश कुमार ने बताया कि वह 27 सितम्बर को दिन में होटल पर थे रात में उनकी ड्यूटी नहीं थी।

पूछताछ के क्रम में CBI ने रामगढ़ताल थाने के वर्तमान इंस्पेक्टर सुशील कुमार शुक्ला को बुलाया था। वह शाम चार बजे पहुंचे और 45 मिनट तक उनसे पूछताछ चली। उन्होंने बताया कि घटना के बाद एक और इंस्पेक्टर की तैनाती हुई थी। उन्हें एक दूसरी घटना में निलंबित कर दिया गया था। उसके बाद उनकी तैनाती हुई है। सुशील कुमार शुक्ला ने 6 आरोपियों में से एक को गिरफ्तार किया है। एजेंसी ने अभी गिरफ्तारी से जुड़ी जानकारी नहीं ली। बस उनसे थाने के काम-काज और एफआईआर से जुड़ी जानकारी ली। कुछ पेपर मांगे जिसे उन्होंने थाने से मंगा कर दिया।